August 23, 2020

SelfieReporter

Share your self shot news videos, stories and earn

राम मंदिर का निर्माण देखने के लिए ट्रस्ट ने बनवाया ऊंचा प्लैटफॉर्म, सेल्फी पॉइंट की भी तैयारी

अनुराग शुक्ला, अयोध्या
राम मंदिर पर फैसले के बाद अयोध्या में लोग अस्थायी मंदिर में रामलला के दर्शन कर रहे हैं। अब श्रद्धालु भव्य राम मंदिर का निर्माण होते भी देख सकेंगे। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट एक ऊंचा प्लैटफार्म बनवा रहा है, जिस पर खड़े होकर पूरे परिसर को देखा जा सकता है। साथ ही दर्शन को यादगार बनाने के लिए सेल्फी पॉइंट भी बनाने की योजना है। प्लैटफॉर्म बनकर लगभग तैयार हो चुका है। बुधवार को दिल्ली में मंदिर निर्माण समिति की बैठक होने के बाद दूसरे दिन से ही निर्माण एजेंसी एलऐंडटी की गतिविधियां भी परिसर में तेज हो गईं है। भूमि की खुदाई के लिए मशीनें परिसर में पहुंच गई हैं।

ट्रस्ट के सूत्रों के मुताबिक, 5 अगस्त भूमि पूजन का कार्यक्रम संपन्न हो जाने के बाद दूसरे दिन से ही बाहरी श्रद्धालुओं में मंदिर निर्माण को देखने की उत्सुकता बढ़ गई है। श्रद्धालु रामलला का दर्शन करने के बाद परिसर में मंदिर निर्माण के बाबत चल रहे कार्यों को देखने के लिए उत्सुक हैं। इन बातों को ध्यान में रखते हुए ट्रस्ट श्रद्धालुओं के लिए परिसर में एक ऊंचा प्लैटफॉर्म बनवा रहा है, जो लगभग बनकर तैयार हो चुका है। जल्द ही इस प्लैटफॉर्म पर खड़े होकर श्रद्धालु मंदिर निर्माण में चल रही गतिविधियों को देख सकेंगे। सूत्र के मुताबिक, देश के बड़े मंदिरों की तर्ज पर दर्शन को यादगार बनाने के लिए एक सेल्फी पॉइंट भी बनाया जा रहा है। जिसमें ट्रस्ट द्वारा नियुक्त एक व्यक्ति श्रद्धालुओं द्वारा ली गई सेल्फी उनके मोबाइल पर भेजेगा। सुरक्षा अधिकारियों से विषय पर राय ली जा रही है।मंदिर निर्माण के लिए तांबा देने की लगी होड़
ट्रस्ट ने ट्वीट कर लोहे और सरिया का इस्तेमाल किए बिना तांबे के प्रयोग से मंदिर निर्माण की कही है। इसी के बाद पूरे भारत से श्रद्धालुओं द्वारा तांबा देने की होड़ लग गई है। वीएचपी के केंद्रीय संगठन मंत्री राजेंद्र सिंह पंकज के मुताबिक, तांबा देने के लिए पूरे देश से श्रद्धालुओं के फोन काफी संख्या में आने लगे हैं। बहुत लोगों ने तो निर्माण में लगने वाले पूरे तांबे को देने की बात कही है जबकि केवल 10 हजार पत्तियों की जरूरत फिलहाल मंदिर निर्माण में अभी आवश्यक्ता है लेकिन देने वालों की संख्या इससे कहीं अधिक हो गई है।

ऑनलाइन ही नहीं डाक घर के माध्यम से भी आ रहा है रुपया
राममंदिर निर्माण के लिए देश भर के श्रद्धालु जहां एक तरफ ऑनलाइन रुपये भेज रहे हैं तो दूसरी तरफ डाकघर के माध्यम से मनीआर्डर भी किया जा रहा है। अयोध्या उपडाक घर के पोस्ट मास्टर जय प्रकाश वर्मा के मुताबिक, 5 तारीख के बाद प्रतिदिन लगभग 50 हजार रुपये ही नही ईंट, मिट्टी, कलश सहित कई अन्य सामान भी काफी मात्रा में ट्रस्ट के पते पर आए। उन्होंने बताया एक दो दिनों से पार्सल और नकदी कम हो गई है लेकिन कब बढ़ जाए यह कह पाना मुश्किल है।

[ad_2]

Source link

%d bloggers like this: